Home » NCP President Sharad Pawar : राष्ट्रवादी के ज्यादा वोट शिवसेना को ; नगर निगम चुनाव आघाडी को लेकर होगी चर्चा

NCP President Sharad Pawar : राष्ट्रवादी के ज्यादा वोट शिवसेना को ; नगर निगम चुनाव आघाडी को लेकर होगी चर्चा

by vmnews24
858 views
NCP-President-Sharad-Pawar.

एनसीपी अध्यक्ष खा. शरद पवार की मौजूदगी में बैठक

मुंबई :

NCP President Sharad Pawar राज्यसभा चुनाव के लिए राकांपा उम्मीदवार प्रफुल्ल पटेल को पहली वरीयता के वोट देने के बाद शेष 11 वोट शिवसेना उम्मीदवार संजय पवार को दिए जाने के निर्देश शरद पवार ने दिये । साथ ही आगामी स्थानीय निकाय चुनावों के लिए राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष खा. शरद पवार ने पार्टी को नेता बनाया है.

एनसीपी अध्यक्ष खा. शरद पवार NCP President Sharad Pawar की मौजूदगी में आज यशवंतराव चव्हाण प्रतिष्ठान में सभी मंत्रियों, सांसदों और पार्टी के प्रमुख नेताओं की समीक्षा बैठक हुई. प्रफुल्ल पटेल, उपमुख्यमंत्री अजीत पवार, खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री छगन भुजबल,  सुप्रिया सुले, जल संसाधन मंत्री जयंत पाटिल, गृह मंत्री दिलीप वलसे-पाटिल, सामाजिक न्याय मंत्री धनंजय मुंडे, आवास मंत्री जितेंद्र आव्हाड, स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे, ग्रामीण विकास मंत्री हसन मुश्रीफ मौजूद थे.

NCP President Sharad Pawar आगामी 14 नगर निगम चुनावों में आघाडी को लेकर भी चर्चा

बैठक के दौरान आगामी राज्यसभा चुनाव समेत विभिन्न मुद्दों पर चर्चा हुई। राकांपा का ज्यादा के वोट शिवसेना के दूसरे उम्मीदवार संजय पवार को दिया जाये . साथ ही आगामी 14 नगर निगम चुनावों में आघाडी को लेकर भी चर्चा होनी चाहिए। समझा जाता है कि शरद पवार ने शिवसेना और कांग्रेस नेताओं से चर्चा कर गठबंधन को लेकर कोई दिक्कत होने पर इस तरह के निर्देश दिए हैं.

जातिवार जनगणना का मुद्दा अब ओबीसी राजनीतिक आरक्षण के सवाल से उठा है। इस पृष्ठभूमि के खिलाफ, राकांपा के प्रदेश अध्यक्ष जयंत पाटिल मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के साथ जातिवार जनगणना के लिए चर्चा करेंगे। जयंत पाटिल ने कहा कि वह जातिवार जनगणना के लिए मुख्यमंत्री से सर्वदलीय बैठक बुलाने की मांग करेंगे.

राज्यसभा चुनाव में निर्दलीय की भूमिका अहम

राज्यसभा चुनाव में निर्दलीय की भूमिका अहम हो गई है। इसलिए निर्दलीय विधायकों को महाविकास अघाड़ी के पास रखने का विशेष प्रयास किया जा रहा है. इसी पृष्ठभूमि में ज्ञात हुआ है कि निर्दलीय विधायकों की जिम्मेदारी संबंधित जिला पालक मंत्री को सौंपने का निर्णय इसी बैठक में लिया गया. साथ ही एनसीपी के दो नेता अनिल देशमुख और नवाब मलिक फिलहाल जेल में हैं। इन दोनों नेताओं को वोट देने के लिए कानूनी प्रक्रिया पूरी करनी होगी. समझा जाता है कि शरद पवार ने सुझाव दिया है कि अदालती प्रक्रिया को गंभीरता से लिया जाना चाहिए और देशमुख और मलिक को वोट देने की अनुमति दिलाने के लिए आवश्यक कारवाही की जानी चाहिए.

You may also like

Leave a Comment

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More